Hisar District GK | हिसार जिले के बारे में सम्पूर्ण जानकारी - Apna Haryana

Hisar District GK | हिसार जिले के बारे में सम्पूर्ण जानकारी – Apna Haryana

Telegram Channel Join Now

Hisar District GK : हरियाणा राज्य 1 नवंबर, 1966 को पंजाब से अलग होकर बना था। हरियाणा के गठन के समय कुल 7 जिले बनाए गए थे, जिनमें से हिसार (Hisar) भी एक जिला था। इस प्रकार से हिसार जिले का गठन 1 नवंबर, 1966 को हुआ था।

हिसार जिला हरियाणा राज्य का एक प्रसिद्ध जिला है। आज के इस ब्लॉग पोस्ट में हम हिसार जिले की सम्पूर्ण जानकारी अथवा Hisar District GK ले कर आए हैं।

Hisar District GK | हिसार जिले के बारे में सम्पूर्ण जानकारी - Apna Haryana
Hisar District GK

Hisar District GK

हिसार जिला हरियाणा के पश्चिम भाग में स्थित जिला है और हिसार हरियाणा का एक मंडल भी है। इसकी सीमा फतेहाबाद, जींद, रोहतक और भिवानी जिले से लगती है तथा भारत के राज्यों में से राजस्थान राज्य के साथ सीमा लगती है.

हिसार जिले के उपनाम

  • मैग्नेट सिटी
  • इस्पात नगरी  
  • स्टील सिटी 
  • हिसार-ए-फिरोजा (प्राचीन नाम)

हिसार का इतिहास (History of Hisar District)

  • हिसार फारसी भाषा का शब्द है। इस भाषा में हिसार शब्द का अर्थ होता है “किला या दुर्ग”। हिसार नगर की स्थापना फिरोजशाह तुगलक ने 1354 ई. की थी, उस समय इस नगर का नाम हिसार-ए-फिरोजा था। हिसार-ए-फिरोजा का मतलब है – “फिरोज का हिसार”.
  • सुल्तान फिरोजशाह तुगलक को हिसार से इतना लगाव था कि वह इसे इस्लामिक धार्मिक शहर बनाना चाहता था। उसने इस नगर को महलों मस्जिदों बगीचों नहरों और अन्य इमारतों से सजाया था।
  • 1857 की क्रांति हिसार और हांसी के साथ-साथ सिरसा में मई के तीसरे सप्ताह में शुरू हो गई (देसी पलटन के विद्रोह द्वारा) थी। इस क्रांति के समय में लाइट इन्फेंट्री के जवानों ने शहजादा मुहम्मद आजम के नेतृत्व में विद्रोह किया था।
  • हिसार में शहजादा मुहम्मद आजम और हांसी में मिर्जा मुनीबेग तथा हुकुम चंद ने क्रांति का नेतृत्व किया। हुकुम चंद व मिर्जा मुनीबेग दोनो सरकारी कर्मचारी थे।1887 ई. में लाला लाजपत राय ने हिसार में कांग्रेस की नींव डाली थी।

हिसार से प्रकाशित प्रमुख समाचार पत्र व संपादक

  • ग्राम सेवक – इस समाचार पत्र की शुरुआत 1936 में लाला हरदेव सहाय द्वारा की गयी।
  • ज्ञानोदय – इस समाचार पत्र की शुरुआत 1948 में की गयी. इसके सम्पादक ब्रह्मानंद थे।
  • अमर ज्योति व हरियाणा संदेश – इनकी शुरुआत 1950 में सम्पादक सेठ महेश चंद्र द्वारा की गई।
  • रंगीला मुसाफिर – इस समाचार पत्र की शुरुआत 1950 में की गयी. इसके सम्पादक प्यारेलाल थे।
  • सेवक – इस समाचार पत्र की शुरुआत 1941 में की गयी. इसके सम्पादक लाला हरदेव सहाय थे।

हिसार जिले में स्थित विश्वविद्यालय व मेडिकल कॉलेज

1) चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय (Chaudhary Charan Singh Haryana Agricultural university, CCS HAU)

  • स्थापना – 2 फरवरी, 1970 को हिसार में
  • 30 अक्टूबर 1991 तक इस विश्वविद्यालय को हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय (Haryana Agricultural University) के नाम से जाना जाता था। इस विश्वविद्यालय का नाम देश के सातवें प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के नाम पर रखा गया है। यहाँ इस विश्वविद्यालय में देश का पहला विज्ञान केंद्र खोला जा रहा है, जिसका नाम डॉ ए.पी.जे अब्दुल कलाम केंद्र होगा।
  • चौधरी चरण सिंह कृषि विश्वविद्यालय के दो रिसर्च स्टेशन है। ये निम्न हैं :
  1. Kaul agriculture research station, Kaul (Kaithal)
  2. Bawal reasearch station, Jhabua near Bawal (Rewari)

2) गुरु जंभेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (Guru Jambheshwar university of science and technology, GJUST)

  • स्थापना – 20 अक्टूबर,1995
  • उद्घाटन – 1 नवंबर,1995 (भजनलाल द्वारा)
  • इस विश्वविद्यालय का नाम 15वीं शताब्दी के पर्यावरणविद गुरु जंभेश्वर जी महाराज के नाम पर रखा गया है।

3) लाला लाजपत राय पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय (Lala Lajpat Rai University of Veterinary & Animal Sciences, LUVAS)

  • स्थापना – 2010 (हिसार ज़िले में)
  • इस विश्वविद्यालय का नाम स्वतंत्रता सेनानी लाला लाजपत राय के नाम पर रखा गया है।

4) महाराजा अग्रसेन मेडिकल कॉलेज (Maharaja Agrasen Medical College), अग्रोहा –

  • स्थापना – 1994 (हिसार ज़िले के अग्रोहा में)
  • महाराजा अग्रसेन मेडिकल कॉलेज का नाम भारत के महान राजा महाराज अग्रसेन के नाम पर रखा गया है। इसके फ़ाउंडर (founder) ओम प्रकाश जिंदल और घनशयाम दास गोयल है।

हिसार जिले के प्रमुख प्रजनन केंद्र व अनुसंधान संस्थान

  • राष्ट्रीय अश्व अनुसंधान केंद्र – इसकी स्थापना सातवीं पंचवर्षीय योजना के तहत हिसार ज़िले में की गई। यह संस्थान असुरों की प्रमुख बीमारियों के उपचार व जैविक विकास हेतु कार्य करता है।
  • केंद्रीय भैंस अनुसंधान संस्थान – इसकी स्थापना 1 फरवरी, 1985 को हिसार ज़िले में की गई। यह संस्थान भैंसों के दूध उत्पादन की क्षमता को बढ़ाने व उनके अन्य सुधार के लिए कार्य करता है।
  • भेड़ प्रजनन केंद्र – इसकी स्थापना 1969-70 में ऑस्ट्रेलिया के सहयोग से हिसार जिले में की गई।
  • राष्ट्रीय पशु अनुसंधान केंद्र – इसकी स्थापना पशुओं के स्वास्थ्य व उत्पादन क्षमता को बढ़ाने हेतु 1986 में हिसार ज़िले में की गई। यह हिसार-सिरसा मार्ग पर स्थित है।
  • सूअर प्रजनन केंद्र – हिसार ज़िले में सूअर प्रजनन केन्द्र स्थित है।
  • हिरण पार्क – हिसार ज़िले में एक हिरण पार्क भी है. इसकी स्थापना वर्ष 1985 में की गई।

हिसार ज़िले में स्थित प्रमुख धार्मिक स्थल (मंदिर, मज़ार, मस्जिद, क़िले और दरगाह)

  • हांसी का क़िला – यह क़िला “पृथ्वीराज चौहान के क़िला” और “असीगढ का क़िला” के नाम से भी प्रसिद्ध है। यह क़िला 12 वीं शताब्दी में पृथ्वीराज चौहान द्वारा बनवाया गया था।
  • लाट की मस्जिद इसका निर्माण फिरोजशाह तुगलक ने करवाया था।
  • चार क़ुतुब मस्जिद व दरगाह यह हिसार ज़िले के हांसी में स्थित है। इसका नाम चार सूफ़ी संतों के नाम पर रखा गया है। इनके नाम जमालुद्दीन, बुरहनद्दीन, क़ुतुबद्दीन मुनावर और नूरूद्दीन हैं।
  • भीत तजारा की मजार – यह हांसी में स्थित है।
  • शेख जुनैद की मजार – यह मजार हिसार ज़िले में नागौरी गेट के दक्षिण में स्थित है।
  • संत मीरा शाह की मजार – यह लगभग 800 वर्ष पुरानी मजार है जो हिसार ज़िले के हांसी में स्थित है।
  • जहाज कोठी – आयरलैंड के निवासी जोर्ज थोमस ने जहाज कोठी का निर्माण 1796 में अपनी रिहायस के लिए करवाया था। प्रारम्भ में इसे जार्ज कोठी के नाम से जाना जाता था परंतु समय गुज़रने के साथ इसका नाम जहाज कोठी हो गया।
  • गुजरी महल – यह हिसार ज़िले में बस स्टैंड के पास स्थित है। गुजरी महल का निर्माण फिरोजशाह तुगलक ने अपनी प्रेमिका गुजरी के लिए करवाया था।
  • दिगम्बर जैन मंदिर – यह हिसार ज़िले में स्थित काफ़ी पुराना मंदिर है।यहाँ पर अनेक जैन मूर्तियाँ संग्रहित है।
  • बुआ कंवारी मंदिर – यह मंदिर हिसार ज़िले के कंवारी गाँव में स्थित है। ऐसा कहा जाता है इस गाँव में एक कुंवारी कन्या सती हुई थी, उसी से इस गाँव का नाम कंवारी पड़ा था।
  • देवी भवन, अग्रोहा – इसे अग्रोहा धाम के नाम से भी पुकारा जाता है। यह हिसार ज़िले के अग्रोहा में स्थित एक धार्मिक स्थल है।

हिसार ज़िले के बारे में अन्य महत्वपूर्ण तथ्य

  • हरियाणा के दो जिलों में विशेष पर्यावरण न्यायलयों की स्थापना की गयी है – हिसार, फ़रीदाबाद
  • हरियाणा में सबसे अधिक विधानसभा सीटें हिसार ज़िले में है – 7
  • दूरदर्शन केंद्र, हिसार – हरियाणा राज्य के एकमात्र दूरदर्शन केंद्र की स्थापना 1 नवम्बर 2002 को हिसार ज़िले में में की गयी थी। इसका उद्घाटन तत्कालीन सूचना व प्रसारण मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज ने किया था।
  • आकाशवाणी केंद्र, हिसार – आकाशवाणी केंद्र हिसार की स्थापना 26 जनवरी 1999 में की गयी थी।
  • ब्लू बर्ड झीलब्लू बर्ड रिसोर्ट, फ्लैमिंगो आदि पर्यटन स्थल हिसार ज़िले में है।
  • ब्लैक बर्ड हांसी में है।
  • महावीर स्टेडियम हिसार ज़िले में है।
  • हिसार ज़िले में “हिसार कैंट” भी है, जिसकी स्थापना 15 नवम्बर 1982 में की गयी।
  • एशिया का सबसे बड़ा पशु फ़ार्म हिसार ज़िले में है।
  • जिंदल स्टेनलेस लिमिटेड हिसार ज़िले में है।
  • हिसार ज़िले में चूना पत्थर व शोरा पाया जाता है।
  • नौंवी सदी की सा रे गा मा अक्षरांकित ईंट हिसार ज़िले के अग्रोहा से प्राप्त हुई है।
  • हड़प्पा संस्कृति का सबसे बड़ा स्थल राखीगड़ी हिसार ज़िले में है। यहाँ पर एक संग्रहालय भी बनाया जा रहा है। जहाज कोठी संग्रहालय भी हिसार ज़िले में है।
  • राजीव गांधी ताप विद्युत केन्द्र – यह हिसार ज़िले के खेदड़ गाँव में स्थित है। इसकी क्षमता 1200 मेगावाट है और स्थापना वर्ष 2007 में की गयी थी।
  • हेली टैक्सी की शुरुआत हरियाणा के हिसार ज़िले से 14 जनवरी,2021 से की गयी है। यहाँ हवाई अड्डे की स्थापना 15 अगस्त 2018 को की गई।
  • प्रमुख प्राचीन वस्तु अवशेष स्थल – मौर्यकालीन स्तूप व अवशेष हिसार ज़िले से मिले है। अग्रेय जनपद के सिक्के अग्रोहा व बरवाला से मिले है। अग्रोहा के टीले की खुदाई श्री आचार्य व श्री जे. एस. खत्री के मार्गदर्शन में 1979 से 1984 के बीच में की गयी। हड़प्पा क़ालीन अवशेष राखीगड़ी से मिले हैं। राखीगड़ी के टीले से हड़प्पा तथा मोहनजोदड़ो काल के वस्तु अवशेष मिले है।सालिना एवं हांसी से जैन मूर्तियाँ हुई है। मानव कृषि के प्रथम साक्ष्य सीसवाल से मिले है।
  • 1151 ई. में विग्रहराज चतुर्थ ने हांसी पर आक्रमण किया था।
  • 1193 ई. में गौरी की सेना व जाटवा नामक राजपूत के बीच हांसी में युद्ध हुआ था।
  • लाला लाजपत राय के द्वारा वर्ष 1887 ई. में हिसार में कांग्रेस की नींव डाली गयी थी।
  • हिसार में आर्य समाज की स्थापना लाला लाजपत राय ने ही की थी।
  • 30 अप्रैल, 1919 को महात्मा गांधी जी को हिसार जिले से गिरफ़्तार किया गया था।
  • Haryana Space Applications Centre (HARSAC) की स्थापना हिसार ज़िले में की गई है। यह हरियाणा राज्य में मौसम से सम्बंधित जानकारी उपलब्ध करवाता है।

यह भी देखें : Sirsa District GK

Hisar District से सम्बंधित Exam में पूछे जाने वाले सवाल

Q1. हिसार ज़िले का गठन कब किया गया?

Ans. 1 नवम्बर, 1966

Q2. राजीव गांधी ताप विद्युत परियोजना किस ज़िले में है?

Ans. हिसार ज़िले के खेदड़ गाँव में

Q3. हिसार में कांग्रेस की नींव किस वर्ष डाली गई?

Ans. 1887 ई. (लाला लाजपत राय के प्रयासों से)

Q4. आकाशवाणी केंद्र, हिसार की स्थापना किस वर्ष की गई?

Ans. 1999 ई.

Q5. दूरदर्शन केंद्र, हिसार की स्थापना कब की गई?

Ans. वर्ष 2002 में

Q6. साईना नेहवाल, मल्लिका शेहरावत, गीतिका जाखड़ का सम्बंध किस ज़िले से है?

Ans. हिसार

Q7. हिसार ज़िले के उपनाम क्या है?

Ans. स्टील सिटी, मैग्नेट सिटी, इस्पात नगरी

Q8. हिसार ज़िले को किसने बसाया था?

Ans. फिरोजशाह तुगलक ने 1354 ई. में

Q9. 1857 की क्रांति का नेतृत्व हिसार ज़िले से किसने किया था?

Ans. शहजादा मुहम्मद आजम

Q10. हांसी का क़िला किसने बनवाया था?

Ans. पृथ्वीराज चौहान

Hisar District Official Website : https://hisar.gov.in/hi/

Hisar District GK FAQ

Q1. हांसी का युद्ध कब हुआ?

Ans. 1193 ई.

Q2. अग्रोहा का उल्लेख किस पुस्तक में है?

Ans. दिव्यवदान

Conclusion : आज के इस ब्लॉग पोस्ट में हमने Hisar District GK को कवर किया है। हिसार ज़िले से जितनी जानकारी हम जुटा सके वो सभी को मिला कर हमने इस पोस्ट को तैयार किया है।अगर पोस्ट से सम्बंधित आपके कोई सवाल है या फिर आपके पास हिसार जिले से सम्बंधित कोई जानकारी है जो हमने इस पोस्ट में कवर नहीं की है, वो आप कॉमेंट करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top